अगर आप हेयर कलर लगाते हैं, तो ये जानकारी है आपके लिए!

2027

अगर आप हेयर कलर लगाते हैं, तो ये जानकारी है आपके लिए!

बाल कितने वक्त बाद कलर करवाने चाहिए, जानने के लिए पढ़ें।

मेरी उम्र 38 साल है और कुछ बाल ग्रे होने लगे हैं। मुझे कब-कब हेयर कलर करना चाहिए? या टच अप कितने दिन बाद करूं? क्या कोई ऐसा तरीका है जिससे कि बालों पर कलर ज्यादा वक्त तक टिका रहे? कृपया सलाह दें।

इस सवाल के जवाब के लिए मुंबई की सलून ओनर और ब्यूटी एक्सपर्ट शैलजा राओ के इनपुट्स लिए गए हैं।

अगर आप बाल कलर करती हैं तो आपको 4-6 हफ्तों में टचअप करना चाहिए, जितनी देर से दोबारा कलर करेंगी उतना अच्छा रहेगा। जितनी जल्दी आप हेयर कलर करना शुरू करेंगी उतनी जल्दी आपके बालों के ग्रे होने लगेंगे। असल में, नियमित रूप से बालों को कलर करने से बाल डैमेज होने लगते हैं। इसलिए अच्छा है कि आप अगर परमानेंट हेयर कलर करवाती हैं तो दो सेशन के बीच 4-6 महीनों का फर्क रखें। लेकिन आप रूट टच अप हर 4-5 हफ्तों में कर सकती हैं। हालांकि सबसे अच्छा तो ये है कि हेयर कलर को मेंटेन करके रखने की कोशिश की जाए, उसे हल्का होने से बचाया जाए। इससे आपके बाल डैमेज होने से अपने आप ही बच जाएंगे। (इसे भी पढ़ें – बालों की हर समस्या का सिर्फ एक इलाज, भृंगराज तेल!)

हेयर कलर को ज्यादा वक्त तक बनाए रखने के लिए आप इन टिप्स को अपना सकती हैं:

  • बालों के लिए सही कलर चुनना बहुत जरूरी है। कोशिश करें कि डार्क कलर चुनें। इससे वो हल्का देर से होता है और आपके ग्रे बाल किसी लाइट कलर के मुकाबले देर से दिखना शुरु होंगे।
  • ध्यान रखें कि आपकी स्टाइलिस्ट बालों के रूट पर पहले कलर लगाएं, इससे कलर लंबे वक्त तक बना रहेगा। कलर थोड़े थोड़े बाल लेकर लगाएं, ताकि वो एक या दो हफ्तों में निकल न जाए।
  • बाल कलर करने के 2-3 दिन बाद बालों को शैंपू करें। इससे बालों को एब्जॉर्ब होने का एक्स्ट्रा टाइम मिल जाएगा, और वो लंबे वक्त तक टिकेंगे। कलर्ड बालों के लिए मिलने वाले स्पेशल शैंपू और कंडीशनर का इस्तेमाल करें। ये न कलर को प्रॉटेक्ट करता है, और बालों को होने वाले केमिकल नुकसान होने से भी बचाता है।
  • धूप से हेयर कलर हल्का होने लगता है, इसलिए धूप में बालों को ढक कर निकले।

चित्र स्रोत – Shutterstock


SHARE