Connect with us

Herbs & Spices

लहसुन खाने से फायदे और नुकसान

Published

on

लहसुन सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता बल्कि इसे खाने के अनेक हेल्दी फायदे भी हैं।

इसे खाने से शरीर को विटामिन ए, बी और सी के साथ आयोडीन, आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम व मैग्नीशियम जैसे कई पोषक तत्व मिलते हैं। यही कारण है कि इसके नियमित सेवन से शरीर ताकतवर व त्वचा चमकदार हो जाती है।

लहसुन का सेवन करने वालों को फेफड़े के रोग नहीं होते। लहसुन एक शानदार कीटाणुनाशक है, यह एंटीबायोटिक दवाइयों का अच्छा विकल्प है, लहसुन से टीबी के कीटाणु नष्ट हो जाते हैं।

लहसुन दमा के इलाज में कारगर साबित होता है। 30 मिली दूध में लहसुन की पांच कलियां उबालें और इस मिश्रण का हर रोज सेवन करें। इससे दमा की शुरुआती अवस्था में काफी फायदा मिलता है। अदरक की गरम चाय में लहसुन की दो पिसी कलियां मिलाकर पीने से भी अस्थमा नियंत्रित रहता है।

logo-544
रोजाना इसे खाने से आपका कॉलेस्ट्रॉल लेवल 12 प्रतिशत तक कम हो सकता है। यह ब्लड क्लॉटिंग को रोकता है, खून पतला करता है और रक्त प्रवाह सुचारू करता है।

लहसुन में विटामिन सी होने से यह स्कर्वी रोग से भी बचाता है। यह आँतों के छिपे मल को भी बाहर निकाल देता है और कब्ज, गैस व एसिडिटी से मुक्ति दिलाता है।

100 ग्राम सरसों के तेल में दो ग्राम (आधा चम्मच) अजवाइन के दाने व एक लहसुन की कलियां डालकर धीमी आंच पर पकाएं। लहसुन और अजवाइन काली हो जाए तब तेल उतारकर ठंडा कर छान लें। तेल की मालिश करने से पहले इसे हल्का गर्म कर लें।इससे हर प्रकार का बदन दर्द दूर हो जाएगा।

अगर आप थुलथुले मोटापे से परेशान हैं तो – लहसुन की दो कलियां भून लें उसमें सफेद जीरा व सौंफ सैंधा नमक मिलाकर चूर्ण बना लें। इसका सेवन सुबह खाली पेट गर्म पानी से करें। – लहसुन की चटनी खाना चाहिए और लहसुन को कुचलकर पानी का घोल बनाकर पीना चाहिए। – लहसुन की पांच-छ: कलियां भिगो दें। सुबह पीस लें। उसमें भुनी हिंग और अजवाइन व सौंफ के साथ ही सोंठ व सेंधा नमक, पुदीना मिलाकर चूर्ण बना लें। 5 ग्राम चूर्ण रोज फांकना चाहिए।

खांसी और टीबी में लहसुन बेहद फायदेमंद है। लहसुन के रस की कुछ बूंदे रुई पर डालकर सूंघने से सर्दी ठीक हो जाती है।
लहसुन की दो कलियों को पीसकर उसमें और एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर मिला कर क्रीम बना ले इसे सिर्फ मुहांसों पर लगाएं। मुहांसे साफ हो जाएंगे।

लहसुन की 5 कलियों को थोड़ा पानी डालकर पीस लें और उसमें 10 ग्राम शहद मिलाकर सुबह -शाम सेवन करें। इस उपाय को करने से सफेद बाल काले हो जाएंगे।

लहसुन की अधिक मात्रा आपके स्‍वास्‍थ्‍य को हानिकारक प्रभाव भी दे सकती हैं।
लहसुन सांस में बदबू, मुंह, पेट या सीने में जलन, गैस, मतली, उल्टी, शरीर में गंध और दस्त का कारण बन सकता है।

लहसुन के गाढ़े पेस्ट का त्‍वचा पर उपयोग त्‍वचा को जलने की तरह नुकसान पहुंचा सकता है।

गर्भावस्था एवं स्तनपान करानेवाली स्त्रियों को वैद्यराज की देखरेख में लेवे |

लहसुन के सेवन से खून का बहाव ज्‍यादा होता है। इसलिए अनुसूचित सर्जरी से कम से कम दो सप्ताह पहले लहसुन का सेवन करना बंद कर दें।

लहसुन गैस्ट्रोइंटेस्टिनल ट्रैक्ट में जलन पैदा कर सकता है। इसलिए अगर आपको पाचन संबंधी समस्‍या हो तो लहसुन का प्रयोग सावधानी से करे|

अधिक कच्चा लहसुन लेने के बाद एक स्वस्थ आदमी में दिल का दौरा पड़ने की संभावना हो जाती है |


Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Home Remedies

हरी मिर्च और अदरक के होते है ये अद्भुद फायदे

Published

on

By

ये तो हम सब जानते ही है कि मसाले खाने के स्वाद को बढ़ाते है। हम घर में रोज कई मसालों का प्रयोग करते है। मसाले सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाते बल्कि हमें कई बीमारियों से भी दूर रखते है। एेसे कई मसाले है जो कैंसर और ट्यूमर से हमारे शरीर को बचा सकते है। तो आइए जानें इन मसालों के बारे में…

1. ज्यादातर लोग खाने में हरी मिर्च का प्रयोग करते है। कई पुराने शोध कहते है कि हरी मिर्च में कैपसेसिन होता है जोकि कई बीमारियों के लिए फायदेमंद है।

2. अगर हरी मिर्च के साथ अदरक का प्रयोग किया जाएं तो इसके फायदें दोगुने हो जाते है।

3. कई शोधों में लंग कैंसर से बचाव के तौर पर भी हरी मिर्च के प्रयोग को फायदेमंद माना जाता है।

4. खांसी और जुकाम के लिए तो हम अदरक का इस्तेमाल करते ही है लेकिन इसका इस्तेमाल कैंसर से लड़ने में भी सहायक है।

5. कहते है कि अदरक में मौजूद 6 जिंजरगोल कैपसेसिन से मिलकर एक एेसा कंपाउड बनता है जिससे ट्यूमर पैदा करने वाले रिसेप्टर्स जड़ से खत्म हो जाते है।


Continue Reading

Tree

हरा धनिया के ये चमत्कारिक फायदे जो सेहत के लिए वरदान साबित हो सकते है!

Published

on

By

हर घर में हरा धनिया खाने में इस्तेमाल होता है.

लेकिन यह हरा धनिया खाने में क्यों उपयोग करते हैं यह बहुत कम लोग जानते होंगे. हरा धनिया  सिर्फ खाने का स्वाद  ही नहीं बढाता बल्कि सेहत के लिए लाभदायक भी होता है.

health-benefits-of-coriander-leaves

आइये जानते हैं इसके  चमत्कारिक फायदे

  • धनिया  में  विटामिन ‘ए’ सी, खनिज पदार्थ, पोटोशियम, फास्फोरस, कैल्शियम, कैरोटीन आयरन, थियामीन, फाइबर, और कार्बोहाइड्रेट जैसे पोषक तत्व प्रचुर मात्र में पाये जाते है, जो हर तरह के रोगों से शरीर को बचाते है.
  • इसका एंटी-सेप्ट‍िक गुण  जीभ और  मुंह के  अंदर घाव होने से बचाता है. साथ ही मुहं में घाव  हो गए हो तो उसको सही  करने में मदद भी करता है.
  • शरीर की आंतरिक और बाहरी जलन जैसे – हाथ, पैर, आंखों, यूरिन की जलन, सिरदर्द और पेट की  एसिडिटी को दूर करते है.
  • हरा धनिया हानिकारक  कोलेस्ट्रॉल कम करता है और  फायदेमंद  कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में सहायक होता है.
  • नकसीर में भी लाभदायक है. नकसीर रोगी इसके रस को जब नाक में डालते है तो नकसीर से मुक्ति  मिलती है.
  • हरा धनिया कफ नाशक है जो कफ को जड़ से ख़त्म करता है. निमोनिया के रोगी के लिए भी फायदेमंद होता है.
  • हरा धनिया लीवर की सक्रियता तीव्र करती करता  है. साथ ही पाचन तंत्र हेतु  बहुत उत्तम रहता  है.
  • इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व होते है, जो आर्थरायटिस रोगी की सेहत के  लिए भी लाभप्रद है.
  • डायबिटीज रोगी के लिए  फायदेमंद है. यह ब्लड इंसुलिन की मात्रा संतुलित रखता है.
  • किडनी संबंधी रोगों की समस्या को कम करती करता है और किडनी के रोगों से बचाता है.
  • इसमें उपस्थित विटामिन्स ए,सी,  एंटी ऑक्‍सीडेंट व मिनरल, कैंसर के रोग से शरीर की रक्षा करते है.
  • हरा धनिया में उपस्थित फाइटोन्यूट्रिएंट्स रेडिकल डैमेज होने से बचाता है व रेडिकल को सुरक्षित रखता है. इसमें पाए जाने वाले  विटामिन  अल्जाइमर रोगियों के लिए  फायदेमंद है.
  •  नर्वस सिस्टम सक्रिय बनाता है.
  • हरा धनिया की पत्तियों में एंटीसेप्टिक व  एंटीऑक्सीडेंट तत्व त्वचा संबंधी रोग कील, मुहासे, काले धब्बे, झुरियों की परेशानी को जड़ से  ख़त्म करता है.
  • इसकी पत्तियाँ खाने पर पेट की पथरी पिघलकर मूत्र के द्वारा शरीर से बहार निकल जाती है.
  • इसकी पत्तियों में  आयरन पाया जाता है जो एनिमिया से बचाता है.
  • यह धनिया  मासिक धर्म के समय रक्तस्राव की अधिकता व कमर के दर्द से मुक्त करता है.

हरा धनिया की पत्तियाँ शरीर को अनेक रोगों से बचाती है और हर तरीके से रोग मुक्त बनाती है. यह हरा धनिया स्वाथ्य के लिए चमत्कारिक औषधि की तरह है.


Continue Reading

Tree

नारियल वाटर पीने के ये फायदे जानकार आप भी हररोज़ नारियल पानी पीने लगेंगे

Published

on

By

नारियल पानी कम कैलोरी वाला एक ऐसा मीठा प्राकृतिक पेय पदार्थ है जिसे पीने से न सिर्फ ताज़गी का एहसास होता है बल्कि ये सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है.

नारियल पानी में एंटीऑक्सीडेंट्स, अमीनो-एसिड, एंजाइम्स, बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन, विटामिन सी और कई प्रमुख लवण पाए जाते हैं, जिनमें छुपा है स्वास्थ्य का खज़ाना.

कहा जाता है कि नारियल पानी की तासीर ठंडी होती है जो महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए किसी अमृत से कम नहीं है.

यूरिन में जलन की हो परेशानी या त्वचा पर निखार लाना हो या फिर मोटापे पर काबू पाने की बात ही क्यों न हो. नारियल पानी इन तमाम स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का रामबाण ईलाज है.

आइए हम आपको बताते हैं नारियल पानी के फायदे – रोज़ाना नारियल पानी पीना आपकी सेहत के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है.

coconut

नारियल पानी के फायदे –

1 – शरीर में नहीं होती है पानी की कमी

रोजाना नारियल पानी पीने से शरीर में कभी पानी की कमी नहीं होती है. इसके साथ ही जरूरी लवणों की मात्रा संतुलित बनी रहती है.

शरीर में पानी की कमी हो जाने पर या फिर शरीर की तरलता कम हो जाने पर, डायरिया हो जाने पर, उल्टी होने पर या दस्त होने पर नारियल पानी पीना फायदेमंद रहता है.

2 – ब्लड प्रेशर करता है नियंत्रित

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए भी नारियल के पानी का इस्तेमाल किया जाता है. इसमें मौजूद विटामिन सी, पोटैशियम और मैग्नीशियम ब्लड-प्रेशर को नियंत्रित रखने में सहायक होते हैं. साथ हाइपरटेंशन को भी नियंत्रित करने मदद करता है नारियल पानी.

3 – नारियल पानी रखता है दिल का ख्याल

नारियल पानी कोलेस्ट्रॉल और फैट-फ्री होता है जिसकी वजह ये दिल के लिए काफी अच्छा माना जाता है.  इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट ब्लड सर्कुलेशन पर सकारात्मक प्रभाव डालता है.

4 – हैंगओवर से दिलाता है छुटकारा

ज्यादा शराब पी लेने से होनेवाले हैंगओवर में नारियल पानी औषधि का काम करता है. इसलिए हैंगओवर से छुटकारा पाने के लिए भी नारियल का पानी एक अच्छा उपाय है.

5 – वजन को करता है नियंत्रित

अगर आप वजन घटाने के लिए तरह-तरह के उपाय करके थक गए हैं तो फिर रोज़ाना नारियल पानी पीकर देखिए. कुछ ही दिन में आपको इसका सकारात्मक प्रभाव दिखने लगेगा.

6 – डिहाइड्रेशन से करता है बचाव

अगर आप अक्सर सिरदर्द की शिकायत से परेशान रहते हैं तो इसकी वजह डिहाइड्रेशन भी हो सकती है. ऐसे में नारियल पानी शरीर को तुरंत इलेक्ट्रोलाइट्स पहुंचाने का काम करता है. नारियल पानी आपके बॉडी को डिहाइड्रेशन से बचाने में मदद करता है.

7 – फ्लू से लड़ने में मददगार

वायरल इंफेक्शन से होनेवाले फ्लू और दाद जैसी बीमारियों से लड़ने में नारियल पानी कारगर भूमिका निभाता है.

अगर कोई व्यक्ति इन बीमारियों की चपेट में आ गया है, तो नारियल पानी में मौजूद एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण इस बीमारी से लडने में मदद करेंगे.

8 – डायबिटीज और कैंसर में लाभदायक

डायबिटीज के मरीज़ों के लिए नारियल पानी काफी लाभदायक होता है. इसमें मौजूद पोषक तत्व, शरीर में शुगर लेवल को नियंत्रित रखते हैं. नारियल पानी कैंसर से भी लड़ने में मदद करता है.

9 – एंटीएजिंग हटाकर त्वचा में निखार लाए

चेहरे से झुर्रियों और मुहांसों के दाग मिटाने में भी नारियल पानी काफी मददगार होता है. नारियल पानी में मौजूद साइटोकिन्स, एंटी ऐजिंग, एंटी कासीनजन और एंटी थौंबौटिक्स से लडने में काफी फायदेमंद साबित हुए हैं.

त्वचा के दाग, धब्बों और झुर्रियों को मिटाने के लिए हर रात करीब दो तीन हफ्तो तक चेहरे पर नारियल पानी लगाने से त्वचा साफ होती है और उसमें निखार आता है.

10 – पाचन शक्ति को बनाता है मज़बूत

नारियल पानी में फॉस्फेट, कटालेस, डिहाइड्रोजनेज, डायस्टेज, पेरोक्सजेस, आरएनए पोलिमेरासेस जैसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर की पाचन शक्ति को सुधारकर उसे मज़बूत बनाने में सहायक होते हैं. नारियल पानी शरीर में ज़रूरी विटामिन्स की कमी को भी दूर करता है.

ये है नारियल पानी के फायदे – नारियल पानी के फायदे जिनके बारे में जानकर आप समझ ही गए होंगे कि नारियल पानी पीना स्वास्थ्य के लिए कितना फाययेदमंद है.

इसमें ऐसे औषधिय गुण छुपे हैं जो डॉक्टर की दवाईयों में भी नहीं मिलेंगे.

नारियल वाटर पीने के ये फायदे जानकार आप भी हररोज़ नारियल पानी पीने लगेंगे 


Continue Reading

Trending