डायरिया से बचाव के लिए घरेलू उपचार (Home Remedies For Diarrhea)

258

जब व्यक्ति की पाचन क्रिया (Digestive System) सुचारू रूप से कार्य करना बंद कर देती है, तब उसे उल्टी और पतले दस्त होने लगते हैं। यही स्थिति डायरिया कहलाती है। डायरिया, बैक्टीरियल तथा वायरल इंफेक्शन (Bacterial and Viral Infection) के कारण होता है, जो दूषित भोजन या खाने के द्वारा व्यक्ति के शरीर में पहुंच कर, पाचन क्रिया को प्रभावित करते हैं।

डायरिया कै दौरान व्यक्ति के पेट में दर्द होता है, पेट में ऐंठन, जी मिचलाना आदि समस्याएं भी हो सकती हैं। डायरिया के दौरान व्यक्ति को डी-हाइड्रेशन (Dehydration) हो सकता है, जिससे स्थिति और भी बिगड़ सकती है। डायरिया के लक्षण व्यक्ति में दो से चार दिन में उभरते हैं।

 

जानिए डायरिया से बचाव के लिए कुछ घरेलू उपचार (Home Remedies of Diarrhea)

नीचे दिये गए उपचारों के द्वारा डायरिया बीमारी में राहत पाई जा सकती है:

1. दही (Yogurt)- दही में मौजूद बैक्टीरिया, शरीर में मौजूद विषैले बैक्टीरिया का नाश कर, डायरिया से बचाते हैं। डायरिया के उपचार के लिए दो कटोरी दही खाने से ही बेहद आराम मिलता है। सादे चावल में दही मिलाकर भी खाई जा सकती है।

2. अदरक (Ginger)- अदरक का प्रयोग फूड पॉइजनिंग (food poisoning) होने पर भी किया जाता है, ऐसे में डायरिया से राहत देने में भी अदरक काफी प्रभावशाली है। अदरक के प्रयोग से पेट की ऐंठन (stomach cramps) और दर्द से भी राहत मिलती है। उपचार के लिए अदरक को कद्दूकस करके, उसमें शहद (honey) मिलाकर खाएं। इसके तुंरत बाद पानी न पीएं। अदरक की चाय (बिना दूध की) भी काफी आराम देती है।

3. मेथी दाना (Methidana)- डायरिया के इलाज के लिए मेथी दाना बेहद फायदेमंद बताया गया है। एक छोटी चम्मच मेथी दाना को चबाकर, एक बड़ी चम्मच दही खाने से डायरिया से निजात मिलती है। इसके अलावा एक चम्मच मेथी दाना और जीरा (cumin) को भून कर पाउडर बना लें और दो बड़ी चम्मच दही में मिलाकर खाएं। इस मिश्रण को दिन भर में तीन बार खाने से बेहद आराम मिलता है।oldveda-logo-272

4. सेब का सिरका (Apple cider vinegar)- सेब का सिरका भी डायरिया में बेहद फायदेमंद है। सेब के सिरके का एसिडिक गुण, डायरिया के बैक्टीरिया को खत्म कर देता है। उपचार के लिए एक गिलास पानी में एक चम्मच सिरका मिलाएं और पी लें। इस मिश्रण को एक दिन में दो से तीन बार तब तक पीएं जब तक डायरिया ठीक न हो जाए।

5. केला (Banana)- केले में काफी मात्रा में पैक्टिन तत्व (pectin content) और पौटेशियम होता है, इसलिए डायरिया में केला खाने की सलाह दी जाती है। डायरिया होने पर दो से तीन पके हुए केला रोज खाएं।

6. कैमोमाइल चाय (Chamomile tea)- कैमोमाइल डायरिया के उपचार में बेहद फायदेमंद है। डायरिया के उपचार के लिए कैमोमाइल की चाय बनाकर पीएं।

7. सफेद चावल (White rice)- सादा, सफेद गीले चावल भी डायरिया के दौरान खाने की सलाह दी जाती है। इस तरह के चावल सुपाच्य होते हैं। इस तरह के चावल खाने से दस्त कम आते हैं। सादा चावल को थोड़ा गीला करके खाएं। स्वाद के लिए चावल में दही मिलाकर खा सकते हैं।

8. गाजर का सूप (Carrot soup)- गाजर का सूप भी डायरिया में बेहद फायदेमंद है। डायरिया के दौरान शरीर में हुई पोषक तत्वों (nutrients) की कमी को पूरा करने के साथ ही गाजर का सूप इम्यूनिटी (immunity) को मजबूत करता है। सूप बनाने के लिए, गाजर को काट कर उबाल लें और जब गाजर उबलकर पानी में घुल जाए तब, पानी को छान कर अलग करा लें। इसमें स्वादानुसार नमक, भुना जीरा और कालीमिर्च पाउडर मिलाएं।


SHARE