होली के लिए कैसे बनाये हर्बल रंग

    1069

    होली के लिए कैसे बनाये हर्बल रंग

    घर पर हर्बल कलर बनाकर होली का आनंद उठायें।

    रंगों का त्योहार होली के दिन पास आते ही सबके जुबान पर एक ही बात होती है, वह है बूरा न मानो होली है। लेकिन आजकल लोग रंग लगाने पर बूरा ही मान जाते हैं क्योंकि रंगों में जो केमिकल होता है वह त्वचा और स्वास्थ्य दोनों के लिए बहुत ही हानिकारक होता है। हरे रंग में कॉपर सल्फेट होता है जो आँखों के लिए बहुत ही खतरनाक होता है, यहाँ तक कि अंधेपन का कारण भी बन सकता है। सिल्वर रंग में एल्युमिनियम ब्रोमाइड होता है जो कैंसर का कारण ब न सकता है। सबके पसंदीदा लाल रंग में मरकरी सल्फाइट होता है जो त्वचा के लिए तो बहुत ही हानिकारक होता है। बैंगनी रंग में क्रोमियम आयोडाइड होता है जो एलर्जी और दमा के रोगी के बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए होली में रंग खेलना खुशी का कारण न बनकर दुख का कारण भी बन सकता है।

    भारत में होली का रंग पूरे दिल से खेला जाता है। इसलिए रंगों के डर से घर में बैठकर क्यों अपने जीवन के बेरंग कर रहे हैं। घर पर ही आप आसानी से हर्बल होली का रंग बना सकते हैं-

    holi-colors

    लाल रंग बनाने के लिए- बीटरूट, अनार के छिलके, टमाटर या गाजर को पीसकर रस बना सकते हैं। और उसको पानी में घोलकर अच्छी तरह से नैचरल होली का लाल रंग बना सकते हैं।
    लाल रंग का गुलाल बनाने के लिए जपाकुसुम या गुलाब की पंखुड़ियों को पीसकर आटे के साथ मिलाकर गुलाल बना सकते हैं। या लाल चंदन के पावडर को भी आटे के साथ मिलाकर गुलाल बना सकते हैं। यह त्वचा के लिए भी बहुत लाभदायक होता है।

    नारंगी रंग बनाने के लिए- टेसू या पलाश के फूल को पीसकर पावडर बना लें और उसको पानी में घोलकर नारंगी रंग का मजा लें।
    नारंगी रंग का गुलाल बनाने के लिए पलाश के फूल का पावडर चंदन के पावडर में मिलाकर गुलाल भी बना सकते हैं।

    पीला रंग बनाने के लिए- पीला रंग का होली खेलने के लिए हल्दी को पानी में मिलाकर रंग बना सकते हैं।
    हल्दी या कसुरी हल्दी को उसके दुगुने मात्रा में बेसन के साथ मिलाकर पीले रंग का गुलाल भी बना सकते हैं। बेसन के जगह पर हल्दी को मुल्तानी मिट्टी के साथ मिला सकते हैं। दोनों त्वचा के लिए अच्छा होता है। या आप गेंदे के फूल को भी पीसकर पीला रंग बना सकते हैं।

    हरा रंग बनाने के लिए- आप धनिया या पालक के पत्ते को पीसकर पानी में मिलाकर हरा रंग बना सकते हैं।
    इसके जगह पर मेंहदी के पावडर को समान मात्रा में आटे के साथ मिलाकर भी हरा रंग का गुलाल बना सकते हैं। यह बालों के लिए लाभदायक सिद्ध होता है।

    बैंगनी रंग बनाने के लिए- चुकंदर या बीटरूट को बारीक काट कर रात भर पानी में भिगोकर रख दें। अगले दिन सुबह उबाल लें और छानकर इसका रस निकाल लें। इस रस को पानी में मिलाकर सुंदर बैंगनी रंग से होली खेलने का मजा उठा सकते हैं।
    जामुन के फल को पीसकर कर भी आप बैंगनी रंग बना सकते हैं।

    काला रंग बनाने के लिए- काले रंग के अंगूर के बीज को निकालकर अच्छी तरह से पीस लें। फिर इसको पानी में अच्छी तरह से मिला लें।

    भूरा रंग बनाने के लिए- ज़रूरत के अनुसार चाय की पत्ती को उबाल लें और उसको पानी में मिलाकर भूरा रंग से होली खेलने का मजा लूट सकते हैं।

    इन सारे तरीकों को अपनाकर आप आसानी से घर पर हर्बल रंग बना सकते हैं।


    SHARE