रात के समय दूध पीने से दूर होगी नींद की परेशानीः अध्ययन

1302
Girl drinking glass of milk

sleep-650_650x488_41450345789अक्सर लोगों को कहते सुना है कि उन्हें रात में अच्छी नींद नहीं आती या फिर बीच-बीच में उनकी आंख खुल जाती है। इन सब से निपटने के लिए वे रात को नींद आने की दवाई आदि खाकर सोते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं, इन्हें बिना किसी दवाई के भी ठीक किया जा सकता है। जी हां, एक नए अध्ययन से पता लगा है कि रात को हेल्दी नींद के लिए अगर सोते समय गाय का दूध पीया जाए, तो बिना किसी दवाई के नींद की परेशानी छू मंतर हो जाएगी।

दक्षिण कोरिया की युमयांग रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑर न्यूरोसाइंस के शोधकर्ताओं का कहना है कि रात के समय पीए गए दूध में विशेषरूप से ट्रीप्टोफेन और मेलाटोनिन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। मेलाटोनिन एक स्वाभाविक रूप से बनने वाले हार्मोन्स होते हैं, जो कि सोने और उठने के चक्र को नियंत्रित करते हैं और ट्रिप्टोफेन सेरोटोनिन और मेलाटोनिन में बदल जाता है।

चूहों पर अध्ययन

अध्ययन के दौरान, चूहों को दिन में दूध, रात में दूध, पानी और डायजेपाम दिया गया और फिर उन्हें 20 मिनट के लिए घूमने वाले सिलेंडर पर रख दिया गया। नींद से भरे हुए चूहे को सिलेंडर पर टिकने में काफी दिक्कत हुई। दिन में दूध पीने वाले चूहों के मुकाबले रात में दूध पीने वाले चूहे एक घंटे बाद कम एक्टिव दिखाई दिए।

शोध टीम ने दूध के बारे में बताते हुए कहा कि ‘लंबे समय से दूध को सोने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।’ इसके साथ ही उन्होंने बताया कि ‘दूध को बढ़ावा देने वाले प्रभावों के लिए मनोवैज्ञानिक संघ को जिम्मेदार ठहराया है और इसमें नींद को बढ़ावा देने वाले घटक की मात्रा काफी होती है।’ अध्ययन ने बताया कि निष्कर्ष सलाह देते हैं कि रात के समय दूध पीने से नींद संबंधित परेशानियां खत्म हो जाती हैं और चिंता-विकार जैसे समस्याओं के उपचार के लिए अच्छा विकल्प हो सकता है। यह अध्ययन जरनल ऑफ मेडिसिनल फूड में प्रकाशित हुई थी।


SHARE