Connect with us

Stress Free

रात के समय दूध पीने से दूर होगी नींद की परेशानीः अध्ययन

Published

on

sleep-650_650x488_41450345789अक्सर लोगों को कहते सुना है कि उन्हें रात में अच्छी नींद नहीं आती या फिर बीच-बीच में उनकी आंख खुल जाती है। इन सब से निपटने के लिए वे रात को नींद आने की दवाई आदि खाकर सोते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं, इन्हें बिना किसी दवाई के भी ठीक किया जा सकता है। जी हां, एक नए अध्ययन से पता लगा है कि रात को हेल्दी नींद के लिए अगर सोते समय गाय का दूध पीया जाए, तो बिना किसी दवाई के नींद की परेशानी छू मंतर हो जाएगी।

दक्षिण कोरिया की युमयांग रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑर न्यूरोसाइंस के शोधकर्ताओं का कहना है कि रात के समय पीए गए दूध में विशेषरूप से ट्रीप्टोफेन और मेलाटोनिन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। मेलाटोनिन एक स्वाभाविक रूप से बनने वाले हार्मोन्स होते हैं, जो कि सोने और उठने के चक्र को नियंत्रित करते हैं और ट्रिप्टोफेन सेरोटोनिन और मेलाटोनिन में बदल जाता है।

चूहों पर अध्ययन

अध्ययन के दौरान, चूहों को दिन में दूध, रात में दूध, पानी और डायजेपाम दिया गया और फिर उन्हें 20 मिनट के लिए घूमने वाले सिलेंडर पर रख दिया गया। नींद से भरे हुए चूहे को सिलेंडर पर टिकने में काफी दिक्कत हुई। दिन में दूध पीने वाले चूहों के मुकाबले रात में दूध पीने वाले चूहे एक घंटे बाद कम एक्टिव दिखाई दिए।

शोध टीम ने दूध के बारे में बताते हुए कहा कि ‘लंबे समय से दूध को सोने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।’ इसके साथ ही उन्होंने बताया कि ‘दूध को बढ़ावा देने वाले प्रभावों के लिए मनोवैज्ञानिक संघ को जिम्मेदार ठहराया है और इसमें नींद को बढ़ावा देने वाले घटक की मात्रा काफी होती है।’ अध्ययन ने बताया कि निष्कर्ष सलाह देते हैं कि रात के समय दूध पीने से नींद संबंधित परेशानियां खत्म हो जाती हैं और चिंता-विकार जैसे समस्याओं के उपचार के लिए अच्छा विकल्प हो सकता है। यह अध्ययन जरनल ऑफ मेडिसिनल फूड में प्रकाशित हुई थी।


Stress Free

हैंगओवर है तो आजमाएं ये 5 टिप्स, हो जाएंगे फ्रेश

Published

on

By

शराब के अत्‍यधिक सेवन से आपको हैंगओवर हो सकता है। हैंगओवर के कारण आपका सिर घूमने लगता है, आंखें सूज जाती हैं और आपके चेहरे की रौनक भी गायब हो जाती है। हालांकि, हैंगओवर के बाद पर्याप्‍त नींद लेने से आप चेहरे की खोई हुई रंगत दोबारा पा सकते हैं। इसके अलावा हैंगओवर के बाद फ्रेश लुक कैसे पाएं, इस संबंध में जिल जिंदर स्‍किन रिजूवेनशन क्लिनिक के फाउंडर जिल जिंदर ने कुछ टिप्‍स साझा किए हैं। आइए जानते हैं क्‍या हैं वो टिप्‍स-

oldveda-old-veda-logo-banner-health-lifestyle-ayurveda1

शाम को बा‍हर ना जाएं
शाम के समय हैंगओवर के बाद बाहर जाने से बचें। शाम के समय तापमान में परिवर्तन होने से आपकी स्किन लाल हो सकती है। आप अपनी स्किन को रेडनेस होने से बचाने के लिए रेडनेस रिलीफ सीरम लगा सकते हैं।

आंखों को ऐसे करें फ्रेश
आंखों की थकावट दूर करने और फ्रेश लुक लाने के लिए पर्याप्त आराम करने की ज़रूरत होती है। अगर आराम से सो नहीं पा रहे हैं तो सोने के लिए कुछ अतिरिक्‍त तकिये ले सकते हैं, इससे आपको अच्छी नींद आएगी। अच्‍छी नींद से चेहरे से अतिरिक्‍त तरल पदार्थ बाहर निकलने में मदद मिलती है। इसके अलावा आप आंखों पर टी-बैग लगा सकते हैं। इससे आंखों की सूजन कम होगी और उन्‍हें राहत मिलेगी।

सुस्‍ती ऐसे दूर करें
पार्टी की सुस्‍ती दूर करने के लिए एक अच्‍छा बाथ ले सकते हैं। इसके अलावा आप अपनी स्किन को बेहतर बनाने के लिए होम मेड फेस पैक जैसे सैन्डल्वुड और एलोवेरा का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

मॉश्‍चराइज़
शराब पीने से शरीर की नमी छीन जाती है। अपनी त्‍वचा में नमी बनाए रखने के लिए आप हाईऐल्युरोनिक एसिड युक्‍त सीरम का प्रयोग कर सकते हैं।

मेकअप रिमूव करना ना भूलें

जब आपको ऐसा लगे कि आप हैंगओवर की स्थिति में जाने वाले या सोने जा रहे हैं, तो अपना मेकअप ज़रूर रिमूव कर लें। कॉस्‍मेटिक में मिले विभिन्‍न तरह के केमिकल्‍स आपकी स्किन को बुरी तरह प्रभावित कर सकते हैं।


Continue Reading

Stress Free

तनाव मुक्त होने के लिए जानिए कुछ बेहतरीन टिप्स

Published

on

तनाव आना एक आना एक स्वभाविक प्रक्रिया है लेकिन यह हम पर हावी होने लगे तो धीरे-धीरे बीमारी का रुप धारण कर लेता है। कुछ लोग तनाव को आसानी से झेल लेते हैं मगर कुछ तनाव सहन नहीं कर पाते और बढ़ते तनाव का प्रभाव उनकी मनोदशा, काम और यहां तक कि रिश्तों पर भी पड़ने लगता है।

यदि आप चाहें तो अपनी दिनचर्या में कुछ सरल बदलावों और दृढ़ इच्छाशक्ति से अपने ऊपर हावी इस तनाव से निजात पा सकते हैं।

* तनाव (Stress) से उबरने के लिए व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। व्यायाम तनाव से निजात दिलाने में काफी कारगर है। यदि आपके लिए यह संभव न हो तो सुबह और शाम के समय सैर पर जाएं।

* यदि आप किसी बीमारी या शारीरिक बदलावों को लेकर तनाव में हैं तो विशेषज्ञ से संपर्क करें। जैसे- आप सिर के बाल कम होने या सफेद हो जाने के कारण ही तनाव में जी रहे हैं तो इस बात की चिंता पालने के बजाय हेयर ट्रांसप्लांट कराएं, दवाइयां लें अथवा योग व प्राणायाम करना शुरू करें। भोजन में प्रोटीनयुक्त पदार्थ शामिल करें।

* यदि आपके साथ कुछ ऐसा घट गया है, जिसे सोचकर आप तनाव में आ जाते हैं तो बेहतर होगा कि आप आपकी जिंदगी के नकारात्मक पहलुओं से अपने आपको अलग करें व उनके बारे में न सोचें।

* यदि पति-पत्नी के रिश्तों में तनाव चल रहा हो तो अपने करीबी मित्र या घरवालों से इस बारे में बात करें। आप इसके लिए मैरिज काउंसलर की मदद भी ले सकते हैं।

* आर्थिक परेशानी होने पर तनाव में आने के बजाय शांत दिमाग से यह सोचें कि आपके पास कितनी संपत्ति है और वैधानिक तरीकों से आप कैसे अपनी आय बढ़ा सकते हैं।


Continue Reading

Trending