Connect with us

Herbs & Spices

तेजपात या तेज पत्ता के औषधीय गुण

Published

on

आइये तेजपात के औषधीय गुणों को जानें :-

logo-544
* तेजपात के ५-६ पत्तों को एक गिलास पानी में इतने उबालें की पानी आधा रह जाए . इस पानी से प्रतिदिन सिर की मालिश करने के बाद नहाएं . इससे सिर में जुएं नहीं होती हैं .महिलाओं के लिए एक उत्तम जूं नाशक है .

* चाय-पत्ती की जगह तेजपात के चूर्ण की चाय पीने से सर्दी-जुकाम,छींकें आना ,नाक बहना,जलन ,सिरदर्द आदि में शीघ्र लाभ मिलता है .

* तेजपात के पत्तों का बारीक चूर्ण सुबह-शाम दांतों पर मलने से दांतों पर चमक आ जाती है .

* तेजपात के पत्रों को नियमित रूप से चूंसते रहने से हकलाहट में लाभ होता है .

* एक चम्मच तेजपात चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर सेवन करने से खांसी में आराम मिलता है .

* तेजपात के पत्तों का क्वाथ (काढ़ा) बनाकर पीने से पेट का फूलना व अतिसार आदि में लाभ होता है .

* इसके २-४ ग्राम चूर्ण का सेवन करने से उबकाई मिटती है .

* दमा में ….तेजपात ,पीपल,अदरक, मिश्री सभी को बराबर मात्र में लेकर चटनी पीस लीजिए।१-१ चम्मच चटनी रोज खाएं ४० दिनों तक। फायदा सुनिश्चित है।

* दांतों के लिए …सप्ताह में तीन दिन तेजपात के बारीक चूर्ण से मंजन कीजिए। दांत मजबूत होंगे, दांतों में कीड़ा नहीं लगेगा ,ठंडा गरम पानी नहीं लगेगा , दांत मोतियों की तरह चमकेंगे।


* कपड़ों के बीच में तेजपात के पत्ते रख दीजिए ,ऊनी,सूती,रेशमी कपडे कीड़ों से बचे रहेंगे। अनाजों के बीच में ४-५ पत्ते डाल दीजिए तो अनाज में भी कीड़े नहीं लगेंगे। उनमें एक दिव्य सुगंध जरूर बस जायेगी।


* अनेक लोगों के मोजों से दुर्गन्ध आती है ,वे लोग तेजपात का चूर्ण पैर के तलुवों में मल कर मोज़े पहना करें। पर इसका मतलब ये नहीं कि आप महीनों तक मोज़े धुलें ही न। वैसे भी अंदरूनी कपडे और मोज़े तो रोज धुलने चाहिए। मुंह से दुर्गन्ध आती है तो तेजपात का टुकड़ा चबाया करें। बगल के पसीने से दुर्गन्ध आती है तो तेजपात का चूर्ण पावडर की तरह बगलों में लगाया करें।


* अगर अचानक आँखों कि रोशनी कुछ कम होने लगी है तो तेजपात के बारीक चूर्ण को सुरमे की तरह आँखों में लगाएं। इससे आँखों की सफाई हो जायेगी और नसों में ताजगी आ जायेगी जिससे आपकी दृष्टि तेज हो जायेगी। इस प्रयोग को लगातार करने से चश्मा भी उतर सकता है।


* पेट में गैस की वजह से तकलीफ महसूस हो रही हो तो ३-४ चुटकी या ४ मिली ग्राम तेजपात का चूर्ण पानी से निगल लीजिए। एसीडिटी की तकलीफ में इसका लगातार सेवन बहुत फायदा करता है और पेट को आराम मिलता है।

* तेजपात का अपने भोजन में लगातार प्रयोग कीजिए ,आपका ह्रदय मजबूत बना रहेगा ,कभी हृदय रोग नहीं होंगे।

* पागलपन के लिए …एक एक ग्राम तेजपात का चूर्ण सुबह शाम रोगी को पानी या शहद से खिलाएं।या तेजपात के चूर्ण का हलुआ बनाकर खिलाएं। सूजी के हलवे में एक चम्मच तेजपात का चूर्ण डाल दीजिए। बन गया हलवा।

* तेजपात के टुकड़ों को जीभ के नीचे रखा रहने दें ,चूसते रहे। एक माह में हकलाना खत्म हो जाएगा।

* दिन में चार बार चाय में तेजपत्ता उबाल कर पीजिए ,जुकाम-जनित सभी कष्टों में आराम मिलेगा। या चाय में चायपत्ती की जगह तेजपत्ता डालिए। खूब उबालिए ,फिर दूध और चीनी डालिए।
*पेट की किसी भी बीमारी में तेजपत्ते का काढा बनाकर पीजिए। दस्त, आँतों के घाव, भूख न लगना सभी में आराम मिलेगा।


Home Remedies

हरी मिर्च और अदरक के होते है ये अद्भुद फायदे

Published

on

By

ये तो हम सब जानते ही है कि मसाले खाने के स्वाद को बढ़ाते है। हम घर में रोज कई मसालों का प्रयोग करते है। मसाले सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाते बल्कि हमें कई बीमारियों से भी दूर रखते है। एेसे कई मसाले है जो कैंसर और ट्यूमर से हमारे शरीर को बचा सकते है। तो आइए जानें इन मसालों के बारे में…

1. ज्यादातर लोग खाने में हरी मिर्च का प्रयोग करते है। कई पुराने शोध कहते है कि हरी मिर्च में कैपसेसिन होता है जोकि कई बीमारियों के लिए फायदेमंद है।

2. अगर हरी मिर्च के साथ अदरक का प्रयोग किया जाएं तो इसके फायदें दोगुने हो जाते है।

3. कई शोधों में लंग कैंसर से बचाव के तौर पर भी हरी मिर्च के प्रयोग को फायदेमंद माना जाता है।

4. खांसी और जुकाम के लिए तो हम अदरक का इस्तेमाल करते ही है लेकिन इसका इस्तेमाल कैंसर से लड़ने में भी सहायक है।

5. कहते है कि अदरक में मौजूद 6 जिंजरगोल कैपसेसिन से मिलकर एक एेसा कंपाउड बनता है जिससे ट्यूमर पैदा करने वाले रिसेप्टर्स जड़ से खत्म हो जाते है।


Continue Reading

Tree

हरा धनिया के ये चमत्कारिक फायदे जो सेहत के लिए वरदान साबित हो सकते है!

Published

on

By

हर घर में हरा धनिया खाने में इस्तेमाल होता है.

लेकिन यह हरा धनिया खाने में क्यों उपयोग करते हैं यह बहुत कम लोग जानते होंगे. हरा धनिया  सिर्फ खाने का स्वाद  ही नहीं बढाता बल्कि सेहत के लिए लाभदायक भी होता है.

health-benefits-of-coriander-leaves

आइये जानते हैं इसके  चमत्कारिक फायदे

  • धनिया  में  विटामिन ‘ए’ सी, खनिज पदार्थ, पोटोशियम, फास्फोरस, कैल्शियम, कैरोटीन आयरन, थियामीन, फाइबर, और कार्बोहाइड्रेट जैसे पोषक तत्व प्रचुर मात्र में पाये जाते है, जो हर तरह के रोगों से शरीर को बचाते है.
  • इसका एंटी-सेप्ट‍िक गुण  जीभ और  मुंह के  अंदर घाव होने से बचाता है. साथ ही मुहं में घाव  हो गए हो तो उसको सही  करने में मदद भी करता है.
  • शरीर की आंतरिक और बाहरी जलन जैसे – हाथ, पैर, आंखों, यूरिन की जलन, सिरदर्द और पेट की  एसिडिटी को दूर करते है.
  • हरा धनिया हानिकारक  कोलेस्ट्रॉल कम करता है और  फायदेमंद  कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में सहायक होता है.
  • नकसीर में भी लाभदायक है. नकसीर रोगी इसके रस को जब नाक में डालते है तो नकसीर से मुक्ति  मिलती है.
  • हरा धनिया कफ नाशक है जो कफ को जड़ से ख़त्म करता है. निमोनिया के रोगी के लिए भी फायदेमंद होता है.
  • हरा धनिया लीवर की सक्रियता तीव्र करती करता  है. साथ ही पाचन तंत्र हेतु  बहुत उत्तम रहता  है.
  • इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व होते है, जो आर्थरायटिस रोगी की सेहत के  लिए भी लाभप्रद है.
  • डायबिटीज रोगी के लिए  फायदेमंद है. यह ब्लड इंसुलिन की मात्रा संतुलित रखता है.
  • किडनी संबंधी रोगों की समस्या को कम करती करता है और किडनी के रोगों से बचाता है.
  • इसमें उपस्थित विटामिन्स ए,सी,  एंटी ऑक्‍सीडेंट व मिनरल, कैंसर के रोग से शरीर की रक्षा करते है.
  • हरा धनिया में उपस्थित फाइटोन्यूट्रिएंट्स रेडिकल डैमेज होने से बचाता है व रेडिकल को सुरक्षित रखता है. इसमें पाए जाने वाले  विटामिन  अल्जाइमर रोगियों के लिए  फायदेमंद है.
  •  नर्वस सिस्टम सक्रिय बनाता है.
  • हरा धनिया की पत्तियों में एंटीसेप्टिक व  एंटीऑक्सीडेंट तत्व त्वचा संबंधी रोग कील, मुहासे, काले धब्बे, झुरियों की परेशानी को जड़ से  ख़त्म करता है.
  • इसकी पत्तियाँ खाने पर पेट की पथरी पिघलकर मूत्र के द्वारा शरीर से बहार निकल जाती है.
  • इसकी पत्तियों में  आयरन पाया जाता है जो एनिमिया से बचाता है.
  • यह धनिया  मासिक धर्म के समय रक्तस्राव की अधिकता व कमर के दर्द से मुक्त करता है.

हरा धनिया की पत्तियाँ शरीर को अनेक रोगों से बचाती है और हर तरीके से रोग मुक्त बनाती है. यह हरा धनिया स्वाथ्य के लिए चमत्कारिक औषधि की तरह है.


Continue Reading

Tree

नारियल वाटर पीने के ये फायदे जानकार आप भी हररोज़ नारियल पानी पीने लगेंगे

Published

on

By

नारियल पानी कम कैलोरी वाला एक ऐसा मीठा प्राकृतिक पेय पदार्थ है जिसे पीने से न सिर्फ ताज़गी का एहसास होता है बल्कि ये सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है.

नारियल पानी में एंटीऑक्सीडेंट्स, अमीनो-एसिड, एंजाइम्स, बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन, विटामिन सी और कई प्रमुख लवण पाए जाते हैं, जिनमें छुपा है स्वास्थ्य का खज़ाना.

कहा जाता है कि नारियल पानी की तासीर ठंडी होती है जो महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए किसी अमृत से कम नहीं है.

यूरिन में जलन की हो परेशानी या त्वचा पर निखार लाना हो या फिर मोटापे पर काबू पाने की बात ही क्यों न हो. नारियल पानी इन तमाम स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का रामबाण ईलाज है.

आइए हम आपको बताते हैं नारियल पानी के फायदे – रोज़ाना नारियल पानी पीना आपकी सेहत के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है.

coconut

नारियल पानी के फायदे –

1 – शरीर में नहीं होती है पानी की कमी

रोजाना नारियल पानी पीने से शरीर में कभी पानी की कमी नहीं होती है. इसके साथ ही जरूरी लवणों की मात्रा संतुलित बनी रहती है.

शरीर में पानी की कमी हो जाने पर या फिर शरीर की तरलता कम हो जाने पर, डायरिया हो जाने पर, उल्टी होने पर या दस्त होने पर नारियल पानी पीना फायदेमंद रहता है.

2 – ब्लड प्रेशर करता है नियंत्रित

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए भी नारियल के पानी का इस्तेमाल किया जाता है. इसमें मौजूद विटामिन सी, पोटैशियम और मैग्नीशियम ब्लड-प्रेशर को नियंत्रित रखने में सहायक होते हैं. साथ हाइपरटेंशन को भी नियंत्रित करने मदद करता है नारियल पानी.

3 – नारियल पानी रखता है दिल का ख्याल

नारियल पानी कोलेस्ट्रॉल और फैट-फ्री होता है जिसकी वजह ये दिल के लिए काफी अच्छा माना जाता है.  इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट ब्लड सर्कुलेशन पर सकारात्मक प्रभाव डालता है.

4 – हैंगओवर से दिलाता है छुटकारा

ज्यादा शराब पी लेने से होनेवाले हैंगओवर में नारियल पानी औषधि का काम करता है. इसलिए हैंगओवर से छुटकारा पाने के लिए भी नारियल का पानी एक अच्छा उपाय है.

5 – वजन को करता है नियंत्रित

अगर आप वजन घटाने के लिए तरह-तरह के उपाय करके थक गए हैं तो फिर रोज़ाना नारियल पानी पीकर देखिए. कुछ ही दिन में आपको इसका सकारात्मक प्रभाव दिखने लगेगा.

6 – डिहाइड्रेशन से करता है बचाव

अगर आप अक्सर सिरदर्द की शिकायत से परेशान रहते हैं तो इसकी वजह डिहाइड्रेशन भी हो सकती है. ऐसे में नारियल पानी शरीर को तुरंत इलेक्ट्रोलाइट्स पहुंचाने का काम करता है. नारियल पानी आपके बॉडी को डिहाइड्रेशन से बचाने में मदद करता है.

7 – फ्लू से लड़ने में मददगार

वायरल इंफेक्शन से होनेवाले फ्लू और दाद जैसी बीमारियों से लड़ने में नारियल पानी कारगर भूमिका निभाता है.

अगर कोई व्यक्ति इन बीमारियों की चपेट में आ गया है, तो नारियल पानी में मौजूद एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण इस बीमारी से लडने में मदद करेंगे.

8 – डायबिटीज और कैंसर में लाभदायक

डायबिटीज के मरीज़ों के लिए नारियल पानी काफी लाभदायक होता है. इसमें मौजूद पोषक तत्व, शरीर में शुगर लेवल को नियंत्रित रखते हैं. नारियल पानी कैंसर से भी लड़ने में मदद करता है.

9 – एंटीएजिंग हटाकर त्वचा में निखार लाए

चेहरे से झुर्रियों और मुहांसों के दाग मिटाने में भी नारियल पानी काफी मददगार होता है. नारियल पानी में मौजूद साइटोकिन्स, एंटी ऐजिंग, एंटी कासीनजन और एंटी थौंबौटिक्स से लडने में काफी फायदेमंद साबित हुए हैं.

त्वचा के दाग, धब्बों और झुर्रियों को मिटाने के लिए हर रात करीब दो तीन हफ्तो तक चेहरे पर नारियल पानी लगाने से त्वचा साफ होती है और उसमें निखार आता है.

10 – पाचन शक्ति को बनाता है मज़बूत

नारियल पानी में फॉस्फेट, कटालेस, डिहाइड्रोजनेज, डायस्टेज, पेरोक्सजेस, आरएनए पोलिमेरासेस जैसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर की पाचन शक्ति को सुधारकर उसे मज़बूत बनाने में सहायक होते हैं. नारियल पानी शरीर में ज़रूरी विटामिन्स की कमी को भी दूर करता है.

ये है नारियल पानी के फायदे – नारियल पानी के फायदे जिनके बारे में जानकर आप समझ ही गए होंगे कि नारियल पानी पीना स्वास्थ्य के लिए कितना फाययेदमंद है.

इसमें ऐसे औषधिय गुण छुपे हैं जो डॉक्टर की दवाईयों में भी नहीं मिलेंगे.

नारियल वाटर पीने के ये फायदे जानकार आप भी हररोज़ नारियल पानी पीने लगेंगे 


Continue Reading

Trending