Connect with us

Skin Care

सर्दियों में इन 4 गलतियों से ड्राई होती है स्किन!

Published

on

सर्दियों के मौसम में स्किन ड्राई होना आम बात है। लेकिन थोड़ी सी सावधानी बरतकर आप स्किन को ड्राई होने से बचा सकते हैं। कॉस्‍मेटिक डर्मेटोलॉजी सोसायटी ऑफ इंडिया के कॉस्‍मेटिक डर्मेटोलॉजिस्‍ट डॉक्‍टर जयश्री शरद के अनुसार, कुछ छोटी-छोटी गलतियों के कारण इस दौरान स्किन ड्राई हो सकती है। आइए जानते हैं, क्‍या हैं वो कारण:

skincare

साबुन का इस्‍तेमाल- सर्दी में कठोर साबुन के इस्‍तेमाल से स्किन ड्राई हो सकती है। साबुन में पाए जाने वाले कृत्रिम रसायन त्‍वचा को कठोर बना सकते हैं। इससे स्किन का पीएच स्‍तर बिगड़ सकता है। इसकी बजाय आप ऑयल और एमोलियंट वाले साबुन का उपयोग कर सकते हैं। अगर स्किन ज्‍यादा ड्राई है, तो आप क्‍लीनसिंग लोशन और टोलरियन फ्लूड का प्रयोग करें।

गर्म पानी से नहाना- सर्दी में गर्म पानी से नहाने से मजा तो आता है, लेकिन इससे स्किन ड्राई हो सकती है। गर्म पानी से नहाने से स्किन में लिपिड बैरियर्स ( lipid barriers) के कम होने का खतरा बना रहता है, जिससे त्‍वचा की नमी खत्‍म हो सकती है। नहाने के बाद पूरे शरीर पर मॉश्चराइज़िंग लोशन ज़रूर लगाएं।

शेविंग रेज़र- बार-बार शेविंग करने से स्किन ड्राई हो सकती है। शेविंग करने से स्किन से नैचुरल मॉश्चराइज़िंग लेयर हटती है। खराब रेज़र ब्‍लेड से स्किन में जलन पैदा हो सकती है। शेविंग के लिए हमेशा नया ब्‍लेड इस्‍तेमाल करें। हो सके तो नहाने के बाद शेविंग करें, इससे बाल सॉफ्ट हो जाते हैं। शेविंग के लिए शेविंग क्रीम और जेल का ही इस्‍तेमाल करें।

बालों को रखें विशेष ख्‍़याल- सर्दियों में लोग अपने बालों की ज्‍यादा केयर नहीं करते हैं। ऊपर से पूरे दिन टोपी पहनकर रखना। ऐसे में बाल ड्राई होने के साथ-साथ कड़क और घुंघराले टाइप के हो जाते हैं। ठंड में बालों को गर्म पानी से ना धोएं और अच्‍छे शैम्‍पू और कंडीशनर का ही इस्‍तेमाल करें। हेयर को ड्राइंग, आयरनिंग और परमिंग करने से बचें, इससे वो ड्राई हो सकते हैं। बालों को प्‍लास्टिक के बजाय लकड़ी की कंघी या ब्रश से सेट करें।

 


Body Care

दाद के लक्षणों को कैसे पहचाने और उसका बचाव कैसे करें। (How to identify and cure Ringworm?)

Published

on

By

दाद के लक्षणों को कैसे पहचाने और उसका बचाव कैसे करें। (How to identify and cure Ringworm?)

हम हमेशा चाहते हैं की हमारा शरीर साफ़ और स्वस्थ रहे हम कभी भी नहीं चाहेंगे की हमे किसी तरह का कोई इन्फेक्शन या बीमारी लगे। वैसे तो हम अपने शरीरका हमेशा ध्यान रखते हैं लेकिन उसके बावजूद हमे कुछ बातों का विशेष तौर पर ध्यान रखना चाहिए। हमे इन्फेक्शन कभी भी हो सकता है जैसे आप यात्रा कर रहे हों काम पर जा रहे हों तो ध्यान दे की आपका कोई साथी या आस पास के लोग बीमार तो नहीं हैं।नहाने के पानी मे 2 बून्द सेवलोंन या डेटोल डाल कर नहाएं। दाद एक ऐसी बिमारी है जो हर उम्र के लोगो मे हो सकती है बच्चा जवान या बुज़ुर्ग इससे कोई नहीं बच पाता। ये एक फंगल इन्फेक्शन है जो सर, पैर, गर्दन या किसी अंदरुनी भाग मे कहीं भी हो सकता है । ये लाल या हलके ब्राउन रंग का गोल आकार का होता है। ये इंसान , जानवर किसी से भी फेल सकता है। लेकिन डरें नहीं ये आसानी से ठीक भी हो जाता है। ये किसी कीड़े से नहीं होता ये तो एक फंगल इन्फेक्शन है।

दाद का इन्फेक्शन बहुत ख़राब फंगल इन्फेक्शन होता है ।अगर आपको ये इन्फेक्शन है तो आप अपने शरीर के किसी भी हिस्से पर लाल गोल निशान देख सकते हैं। ये बहुत तेज़ी से फेलता है जिस जगह पर हुआ है उसके आस पास की जगह पर भी फैलने लगता है। इसका इन्फेक्शन ज्यादा बढ़ने पर आप शरीर पर उभार और फुंसियाँ भी देख सकते हैं।

रिंगवर्म या दाद के लक्षण (Symptoms of ringworm infection)

How to identify and cure Ringworm

How to identify and cure Ringworm

बालों की जड़ो में होने के लक्षण।अगर आपको शरीर पर लाल धब्बे दीखते हैं और खुजली होती है तो सावधान हो जाइए ये दाद है अगर ये आपके नाख़ून पर हुआ तो आपका नाख़ून जड़ से निकल सकता है बालों की जड़ो मे हुआ तो आपके बाल उस जगह से झड़ सकते हैं। ये आपको बालों की जड़ो ,पैर ,अंदरुनी भागो में हो सकता है।

  • जड़ो में खुजली होना
  • छोटी छोटी फुंसी होना
  • बालों का झड़ना
  • चमड़ी का तड़कना
  • पस होना

दाद के प्रकार (Types of ringworm)

शरीर पर लक्षण (Symptoms in body)

  • लाल पन और खुजली होना ।
  • पस की फुंसियाँ होना
  • खुजली के साथ उभार दिखना।

पैरों पर लक्षण (Symptoms in foot)

  • इर्रिटेशन और जलन होना।
  • फटी हुई चमड़ी

अंदरुनी भागों पर लक्षण (Groin ringworm symptoms)

दाद का इलाज (dad ka ilaj) – रिंगवर्म या दाद से बचने के उपाय और उपचार (Prevention,Treatment and cure for ringworm infection)कटाव या चमड़ी निकलना।

  • लालपन होना
  • अंदरुनी भागो में खुजली होना ।

हमेशा अपने शरीर को साफ़ रखें ।शरीर को गिला न रखें हमेशा सुखा रखने की कोशिश करें। एंटी फंगल या मेडिकैटेट साबुन का प्रयोग करें शैम्पू का रोज़ाना इस्तेमाल करें।  जहाँ तक हो सके कॉटन के कपडे पहने । ज्यादा चुस्त कपडे ना पहनें। दूसरों के कपडे ,तोलिया ,बेड शीट ,ब्रश का उपयोग ना करें। अगर किसी को ये इन्फेक्शन है तो उनसे दुरी रखें हाथ ना मिलाएं क्योंकि ये इन्फेक्शन फेलता है। अगर आपके घर मे कोई जानवर है और उसे ये इन्फेक्शन है तो उस पर पट्टी कभी ना बांधें और तुरंत डॉक्टर के पास ले जाएँ । आईये आपको इससे छुटकारा पाने के कुछ उपाए बताते हैं । इन्हें आप अपने दोस्तों को भी बताएं।

दाद की अचूक दवा – एंटी फंगल शैम्पू (Anti fungal shampoo)

अगर आप डॉक्टर को दिखाएंगे तो वो आपको एंटी फंगल शैम्पू ही इस्तेमाल करने की सलाह देगा इससे आपको जल्दी ही दाद में आराम मिलेगा। ये शैम्पू किसी भी मेडिकल स्टोर पर आराम से मिल जाते हैं।

कुछ घरेलु उपाय दाद से बचने के लिए।

लहसुन का अर्क – दाद की देशी दवा (desi ilaj for ringworm in hindi with Garlic extract)

नारियल का तेल- घरेलू उपाय (gharelu upai with Coconut oil in Hindi)लहसुन में प्राकृतिक रूप से एंटी फंगल तत्व होते हैं। जो की कई तरीके के फंगल इन्फेक्शन को ठीक करने में सहायक है। जिसमे से दाद भी एक है। लहसुन को छिल कर उसके छोटे छोटे टुकड़े कर दाद पर रख दीजिये जल्दी आराम मिलेगा।

नारियल का तेल दाद को ठीक करने में बहुत उपयोगी है। ख़ास कर जब आपके सर की जड़ो में इन्फेक्शन हुआ हो तो ये एक बहुत बेहतरीन तरीका है।

दाद की दवा – राई के बीज (Mustard seeds)

छोटे छोटे राई के दाने दाद को ठीक करने में सहायक है। राई को 30 मिनट तक पानी में भिगो कर रख दें। फिर उसका पेस्ट बनाकर दाद की जगह पर लगा लें।

दाद की चिकित्सा – एलोवेरा (Aloe Vera)

एलोवेरा का अर्क हर तरह के फंगल इन्फेक्शन को ठीक कर देता हैं । इसे तोड़कर सीधे दाद पर लगा लीजिये ठंडक मिलेगी। हो सके तो रात भर लगा कर रखें ।


Continue Reading

Skin Care

झुर्रियां हटाने में कैसे मदद करता है आलू का रस

Published

on

झुर्रियां हटाने में कैसे मदद करता है आलू का रस

आलू ना केवल खाने के ही बल्‍कि चेहरे पर लगाने के भी काम आता है। हम अपने पहले आर्टिकल्‍स में ही आपको आलू से बने फेस पैक्‍स के बारे में बता चुके हैं, जो चेहरे के लिये बेहद गुणकारी हैं।

यह भी पढ़ें: जानें: गर्मी में त्वचा की देखभाल के 5 टिप्स

आज हम आपको बताएंगे कि आलू किस तरह से चेहरे पर से झुर्रियां मिटा सकता है। आलू में विटामिन सी पाया जाता है जो कोलाजिन का निमार्ण करने में मदद करता है, जिससे चेहरा लचीला बनता है तथा त्‍वचा पर जल्‍दी झुर्रियां नहीं पड़ती। इसके अलावा आलू में जिंक और कॉपर भी होता है जो छोटी छोटी झुर्रियों को दूर कर के चेहरे को समूथ्‍त बनाता है।

03-1399109664-potato2-04-1459750924

इस मास्‍क को तैयार करने के लिये आपको 2 चम्‍मच आलू का स्‍टार्च और थेाड़ा सा पानी मिक्‍स करना होगा। इस पेस्‍ट को आंखों तथा गले पर छोड़ कर बाकी के चेहरे पर 20 मिनट तक लगाए और फिर गुनगुने पानी से धो लें।

यह भी पढ़ें: विटामिनों का बेहतरीन स्रोत हैं मीठे आलू की पत्तियां

आलू का हैंड मास्‍क 1: अगर आपको अपने हाथों को मुलायम और गोरा बनाना है तो उसके लिये भी मास्‍क तैयार किया जा सकता है। आलू को छील कर उसे घिस लीजिये और उसमें 3-4 चम्‍मच गरम दूध और पानी मिलाइये। इस पेस्‍ट को हाथों पर लगाइये और आधा धंटा रखिये।

oldveda-old-veda-logo-banner-health-lifestyle-ayurveda1

ऑइली स्‍किन के लिये लोशन: अगर ऑइली स्‍किन के लिये लोशन बनाना है तो 1/4 कप कच्‍चे आलू के रस में 1/4 कप टमाटर का रस मिलाएं। इसे एक बॉटल में भर कर रख लें औरफिर इससे चेहरे और गर्दन को कॉटन पैड ले कर साफ करें। इससे चेहरा ऑइल से मुक्‍त हो जाएगा।


Continue Reading

Skin Care

इस रस को लगाने से जल्दी ठीक होते हैं मुंहासे

Published

on

चेहरे पर अचानक से मुंहासे निकल जाने से हर कोई एकदम परेशान हो जाता है। यह न सिर्फ देखने में बुरा लगता है बल्कि बार बार इसमें होने वाली जलन और खुजली से बहुत उलझन होने लगती है। त्वचा पर उपस्थित तेल जब त्वचा के छिद्रों को बंद कर देते हैं तो इसी कारण से मुंहासे निकल जाते हैं। मुंहासे भी कई तरह के होते हैं जैसे कि पिम्पल्स, वाइटहेड्स, ब्लैकहेड्स इत्यादि।  सिस्ट (Cysts) इनमे से सबसे खतरनाक तरीके का मुंहासा होता है जिसमें मवाद भर जाता है और इसमें काफी दर्द भी होता है, कई बार ये अपने स्थायी दाग भी छोड़ जाते हैं।

face-wash

यह भी पढ़ें: ऐसे दूर करें नारियल पानी से मुंहासे के निशान

मुंहासो को दूर करने के लिए फेसवाश, एक्ने मास्क, एक्ने क्रीम्स और एंटी-बायोटिक कई तरह के उपाय अपनाए जाते हैं। कई डर्मेटोलॉजिस्ट मुंहासों के उपचार के लिये लेज़र थेरेपी, लाइट थेरेपी का इस्तेमाल करते हैं लेकिन मुंहासों से बचाव के लिये कई घरेलु उपचार भी बहुत असरदार हैं। जैसा कि हम सभी यह जानते हैं कि वीटग्रास जूस हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। पीरियड्स में होने वाले दर्द से आराम दिलाने से लेकर यह वजन कम करने तक में मदद करता है, लेकिन शायद आप यह नहीं जानते कि यह चेहरे पर निकलने वाले मुंहासों और दाग धब्बों को भी दूर करने में भी सहायक है। वीटग्रास जूस में कैल्शियम, आयरन, सोडियम और मैग्नीशियम के अलावा विटामिन ए, बी, सी और इ भी मिलता है।

पनाके स्किन एंड हेयर क्लिनिक एंड स्लिमिंग सेंटर की डॉ. नम्रता भारम्बे बताती हैं कि, वीटग्रास जूस को चेहरे पर लगाने से यह मुंहासों को कम कर देता है। यह मुंहासों की सूजन को कम करके, उनमे होने वाली जलन को भी ख़त्म कर देता है। इसमें पाये जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट चेहरे की झुर्रियों को कम करके आपके बढती उम्र के असर को कम कर देते हैं। इसके अलावा यह त्वचा को सनटैन से भी बचाते हैं।

यह भी पढ़ें: रोजाना सुबह इस जूस को पीने से मिलती है डायबिटीज से राहत

घर पर वीटग्रास जूस कैसे बनाये ?

आजकल वीटग्रास जूस बाज़ार में आसानी से उपलब्ध है लेकिन आप इन्हें अपने घर में भी उगा सकते हैं। इसे इस्तेमाल करते समय इस बात का ध्यान रखें कि सिर्फ 7 दिन पुरानी हो चुकी वीट ग्रास को ही उपयोग में लायें। इसे अच्छे से धो लें और पानी के साथ ग्राइंड कर लें। फिर इसे छान लें।

जूस को कैसे इस्तेमाल करें: अपने चेहरे पर इस जूस को फेस मास्क की तरह लगायें। एक कॉटन बॉल लें उसे जूस में डुबोएं और फिर मुंहासे वाली जगह पर लगायें। इसे सूखने दें फिर सादे पानी से धो लें।

 

चित्र स्रोत: Shutterstock


Continue Reading

Trending