कमर दर्द के लिए लाभकारी योगासन

1589

कमर का दर्म कमर तोड़ देता है। कमर का दर्द असहनीय होता है। पीठ दर्द, कमर दर्द, सरवाइकल और कमर से जुड़ी अन्य समस्याएं आम हो गई है। डॉक्टर भी कहते हैं कि इसका सबसे अच्छा इलाज योग (Yoga for Back pain) ही है। आओ जानते हैं कि वह कौन से आसन हैं जिससे कमर का दर्द ठीक हो जाता है। ये चार आसन है- मकरासन, भुजंगासन, हलासन और अर्ध मत्येन्द्रासन।

1.मकरासन ( makarasana ) :makarasanaमकरासन की गिनती पेट के बल लेटकर किए जाने वाले आसनों में की जाती है। इस आसन की अंतिम अवस्था में हमारे शरीर की आकृति मगर की तरह प्रतीत होती है इसीलिए इसे मकरासन कहते हैं। मकरासन से जहां दमा और श्वांस संबंधी रोग समाप्त हो जाते हैं वहीं यह कमर दर्द में रामबाण औषधि है।

2.भुजंगासन ( bhujangasana ) : bhujangasanaभुजंगासन की गिनती भी पेट के बल लेटकर किए जाने वाले आसनों में की जाती है। इस आसन की अंतिम अवस्था में हमारे शरीर की आकृति फन उठाए सांप की तरह प्रतीत होती है इसीलिए इसे भुजंगासन कहते हैं।

3.हलासन ( halasana ) :

Halasana, plow pose, australia, breath, breathing, chakra, chant, classes, contemplation, courses, divine, emotions, health, ihana yoga, jenni, jenni juokslahti, magical, mantra, meditation, melbourne, mind, mindfulness, posture, practice, shanti, spiritual, yoga, yoga teacher, yogi, ashtanga, astanga, ashtanga yoga, ashtanga vinyasa yoga, vinyasa flow, ashtanga primary series, ashtanga first series, st kilda, albert park, melbourne CBD, asana, surya namaskara A
Halasana, plow pose, australia, breath, breathing, chakra, chant, classes, contemplation, courses, divine, emotions, health, ihana yoga, jenni, jenni juokslahti, magical, mantra, meditation, melbourne, mind, mindfulness, posture, practice, shanti, spiritual, yoga, yoga teacher, yogi, ashtanga, astanga, ashtanga yoga, ashtanga vinyasa yoga, vinyasa flow, ashtanga primary series, ashtanga first series, st kilda, albert park, melbourne CBD, asana, surya namaskara A

दो आसन पेट के बल करने के बाद अब पीठ के बील किए जाने वाले आसनों में हलासन करें। हलासन करते वक्त शरीर की स्थित हल के समान हो जाती है इसीलिए इसे हलासन कहते हैं।

4.अर्ध-मत्स्येन्द्रासन ( ardha matsyendrasana ) : Ardha-Matsyendrasanaयह आसन सबसे महत्वपूर्ण है। कहते हैं कि मत्स्येन्द्रासन की रचना गोरखनाथ के गुरु स्वामी मत्स्येन्द्रनाथ ने की थी। वे इस आसन में ध्यानस्थ रहा करते थे। मत्स्येन्द्रासन की आधी क्रिया को लेकर ही अर्ध-मत्स्येन्द्रासन प्रचलित हुआ।


SHARE